lala Ramswaroop Calendar 2023 pdf file download | लाला रामस्वरूप कैलेंडर 2023 pdf download

lala ramswaroop calendar 2023 pdf file download !लाला रामस्वरूप कैलेंडर 2023 pdf download


lala ramswaroop calendar 2023 – हिंदू कैलेंडर

  • सभी महीने का कैलेंडर एक Pdf फाइल में उपलब्ध है.
  • lala ramswaroop calendar 2023 कलेंडर का लिंक निचे दिया गया है जहाँ से आप इसे Pdf में भी डाउनलोड कर सकते है

 

  • कालांतर हिंदू कैलेंडर को कहते है. यह पारंपरिक रूप से भारत में इस्तेमाल होने वाले विभिन्न चंद्र कैलेंडर के लिए एक सामूहिक शब्द है। यह हिंदू ज्योतिष और राशि पद्धति के अभ्यास के लिए भी महत्वपूर्ण है
  • जिसमें से अधिकांशत इसे सिकंदर महान के आगमन के बाद शताब्दियों में ग्रीस से अपनाया गया था।lala ramswaroop calendar 2023: लाला रामस्वरूप कैलेंडर 2023 pdf download लाला राम स्‍वरूप पंचाग  कैलेंडर सह पंचांग एक हिंदू पंचांग है जो अत्‍यंत ही मशहूर एवं सटिक जानकारी  प्रकाशित होता है। इस पर भरोसा अनेक लोग करते है। . 

 

हिन्दू कैलेंडर के महीने | Hindu calendar months

  • चैत्र माह (चैत) – Chaitra Mah
  • वैशाख माह (बैसाख) – Baishakh Mah
  • ज्येष्ठ माह (जेठ) – Jyeshth Mah
  • आषाढ़ माह – Aashaad Mah
  • श्रावण माह (सावन) – Shraavan Mah
  • भाद्रपक्ष माह (भादों) – Bhadra paksh – Bhadon Mah
  • आश्विन माह (क्वार) – AAshvin – Kwaar Mah
  • कार्तिक माह – Kaartik Mah
  • मार्गशीष माह (अगहन) – Agahan Mah
  • पौष माह – Paush Mah
  • माघ माह – Maagh Mah
  • फाल्गुन माह – Falgun Mah 

Tala ramswaroop calendar 2023 pdf file download : Hindu calendar Pdf

 

  • lala ramswaroop calendar 2023 – हिंदू कैलेंडर
  • लाला रामस्‍वरूप पंचांग/कैलेंडर 2023  -Hindu Panchang Calendar 2023  in Pdf 

 

lala ramswaroop calendar 2023 pdf file download !लाला रामस्वरूप कैलेंडर 2023 pdf download

 

सभी महीने का कैलेंडर एक Pdf फाइल में उपलब्ध है.

lala ramswaroop calendar 2023 pdf file download कलेंडर का लिंक निचे दिया गया है जहाँ से आप इसे Pdf में भी डाउनलोड कर सकते है :

 Link – Download lala ramswaroop calendar 2023 pdf file download लाला रामस्वरूप कैलेंडर 2023 pdf download

 

lala ramswaroop calendar 2023 देखने की विधि

  • हिंदू कैलेंडर चंद्र आधारित है इसका अर्थ है कि यह चंद्र कैलेंडर और सौर कैलेंडर दोनों है। हिंदू गणितज्ञों ने राशि को 12 ‘बराबर भाग‘ में विभाजित किया है जिसका नाम राशी‘ है।  
  • प्रत्येक राशी को 30 भागों में विभाजित किया गया है जिसे अम्सा कहा जाता है (वास्तव में यह डिग्री है)।
  • यह कैलेंडर व्रतउत्सव या त्योंहारविवाह मुहूर्तसूर्योदयसूर्यस्तमतेज मंधी विचारचन्द्र स्तिथिभद्रा स्तिथिपंचक विचारमूल विचारप्रत्येक माह में कुंडलीमासिक अवकाशबृहस्पतिमुहूर्त आदि की जानकारी प्रदान करता है। 
  • किसी भी नई राशी में सूर्य के समय का प्रवेश बिंदु संक्रांति‘ कहलाता है। एक संक्रांति से ठीक पहले संक्रांति से पहले सौर मास होता है। इसलिएहिंदू महीना पूरी तरह से राशि आधारित है और वे लंबे समय तक लगते हैं जब सूर्य पृथ्वी से बहुत दूर होता है और वे तब कम होते हैंजब सूर्य पृथ्वी के निकट होता है।

 

 

Comments

No comments yet. Why don’t you start the discussion?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *