ISRO General knowledge ! isro hindi

इसरो सामान्‍य ज्ञान ।  ISRO General knowledge । इसरो से संबंधित महत्‍वपूर्ण प्रश्‍नावली



style=”display:block”
data-ad-client=”ca-pub-4113676014861188″
data-ad-slot=”2557605685″
data-ad-format=”auto”
data-full-width-responsive=”true”>

ISRO इसरो

भारतीय अतंरिक्ष अनुसंधान संगठन
(इसरो) Indian
space research organization


ISRO इसरो की स्‍थापना । ISRO इसरो का इतिहास

15 अगस्‍त 1962 को भारतीय राष्‍ट्रीय
समिति के रूप में
ISRO इसरो
की स्‍थापना की गई।
Indian
national committee for space research
INCOSPR का गठन होमी भाभा जहांगीर द्वारा की गई।

  • INCOSPR 15 अगस्‍त 1969 को ISRO इसरो
    में बदल गया ।
  • भारतीय अंतरीक्ष कार्यक्रम का जनक-डॉ
    विक्रम साराभाई।
  • परमाणु उर्जा विभाग के डायरेक्‍टर
    होमी भाभा ने 1962 में
    INCOSPR का गठन
    किया था।
  • INCOSPR का अध्‍यक्ष के लिए चयन डॉ साराबाई को
    किया गया ।

ISRO इसरो क्‍या है-

  • भारत का राष्‍ट्रीय अंतरिक्ष संस्‍थान।
  • मुख्‍यालय – बंग्‍लौर।
  • प्रमुख कार्य– अंतरिक्ष सम्‍बन्‍धी
    तकनीक उपलब्‍ध कराना।
  • ISRO इसरो का मोटो- मानव जाति की सेवा में अंतरिक्ष प्रौ।द्यौगिकी।

वर्तमान अध्‍यक्ष- के सिवान kailasavadivoo
sivan (
K.sivan)

ISRO इसरो का उदेश्‍य-

  • राष्‍ट्रीय कार्यो हेतु अतंरीक्ष
    प्रौद्योगिकी विकसीत करना।
  • विदेशी उपग्रहो, प्रक्षेपण
    मानों का विकास।
  • दूरदर्शन प्रसारण, दूर संचार
    , मौसम विज्ञान, सूदुर संवेदन उपग्रह
    का निर्माण आदि।

ISRO इसरो पर नियंत्रण-

  • Govt Of India  के अंतरिक्ष विभाग के प्रशासकीय नियंत्रण के अधीन
    संगठन है।
  • अंतरिक्ष विभाग प्रधानमंत्री व अंतरिक्ष
    आयोग के अधीन होता है।

ISRO इसरो प्रमुख उपलब्धि-

  • 15 फरवरी 2017 में ISRO इसरो की 39 वीं
    उडान का आयोजन किया गया ।
  • PSLV -C 37  द्वारा।
  • 1 राकेट से 104 उपग्रह का सफल प्रक्षेपण
    कर इतिहास रचा।

नोट- इंडिया के पहले रूस ने सर्वाधिक
37 उपग्रहों को 2014 में अंतरिक्ष में भेजकर रिकार्ड बनाया था।

 ISRO इसरो के विशेष तथ्‍य-

  • 1962 INCOSPR गठन।
  • 1969 ISRO इसरो
  • 1975-आर्यभट्ट पहला यान।
  • 1994PSLV का निर्माण।
  • 2001GSLV
  • 2008चंद्रयान
    प्रथम सफल
  • 2013MOM प्रोजेक्‍ट । मंगलयान
    प्रथम लान्‍च।
  • 2017-104 सफल प्रक्षेपण ।
  • 2019

  1. मिशन शक्ति
  2. चन्‍द्रयान द्वितीय असफल
  3. गगनयान-मानव युक्‍त चन्‍द्रमा

मंगलयान मिशन-

  • दिसंम्‍बर 2014 मंगल ग्रह में।
  • प्रथम प्रयास में ISRO इसरो सफल।
  • ISRO इसरो के समक्ष चुनौतियां-
  • बजट में कम धनराशि का आबंटन।
  • आधुनिक प्राद्यौगिकी का अभाव।
  • समय का प्रभाव।
  • मानव संसाधन तंत्र का अभाव।

Comments

No comments yet. Why don’t you start the discussion?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *