बोधघाट बहुउद्देशीय सिंचाई परियोजना BODHGHAT SICHAI PARIYOJANA

बोधघाट बहुउद्देशीय सिंचाई परियोजना

बोधघाट बहुउद्देशीय सिंचाई परियोजना



बोधघाट बहुउद्देशीय सिंचाई परियोजना
यह छत्‍तीसगढ़ राज्‍य की अति महत्‍त्‍वपूर्ण परियोजना है । बोधघाट बहुउद्देशीय
सिंचाई परियोजना इंद्रावती नदी पर प्रस्‍तावित है जो कि गोदावरी नदी की मुख्‍य
सहायक नदी है। छत्‍तीसगढ़ राज्‍य में
इंद्रावती नदी कुल 264 किलोमीटर में प्रवाहित होती है। बोधघाट परियोजना दन्‍तेवाड़ा जिले के विकासखण्‍ड  एवं तहसील गीदम के ग्राम बारसूर से लगभग 8
किलोमीटर  दूरी पर प्रस्‍तावित हैं। इस
परियोजना हेतु साल 1979 में पर्यावरण स्‍वीकृति मिली थी। वन संरक्षण अधिनियम 1980
लागू होने केउपरांत साल 1985 में पुन- पर्यावरण स्‍वीकृति प्राप्‍त हुई।

 

बोधघाट बहुउद्देशीय सिंचाई परियोजना के संबंध में जानकारी

  • बोधघाट परियोजना के निर्माण से खेतीकिसानों, उद्योग एवं अन्‍य आय मूलक गतिविध्यिों को बढ़ावा मिलेगा। जिससे बस्‍तर की
    इकोनॉमी में 6 हजार 223 करोड़ रूपए की बढ़ोत्‍तरी होगी।

  • इन्‍द्रावती नदी के 300 टीएमसी जल का
    उपयोग छत्‍तीसगढ़ राज्‍य कर सकता है। वर्तमान में मात्र 11 टीएमसी जल का उपयोग हो
    रहा है।

  • बोधघाट परियोजना के निर्माण से 168
    टीएमसी
    जल का उपयोग बस्‍तर अंचल के विकास के लिए हो सकेगा। इससे 3लाख 66 हजार हेक्‍टेयर
    में सिंचाई
    और लगभग 300 मेगावाट विद्युत का उत्पादन होगा।


  • बोधघाट परियोजना से दंतेवाड़ा के 51
    बीजापुर जिले के 218 तथा सुकमा के 90 इस प्रकार कुल 359 गांव लाभान्वित होंगे। इन
    तीनों जिलों में खरीफ में एक लाख 71 हजार 75 हेक्‍टैयर
    , रबी में  एक लाख 31 हजार 75 हेक्‍टेयर तथा गर्मी में 64
    हजार 430 हेक्‍टेयर
    इस प्रकार कुल 3 लाख 66 हजार 580 हेक्‍टेयर में सिंचाई होगी।

  • परियोजना के निर्माण में 28 गांव
    पूर्ण रूप से तथा 14 गांव आंशिक रूप से डूबान में आएंगे जिसमें से 5704 हेक्‍टेयर
    वन भूमि
    , 5010 हेक्‍टेयर निजी
    भूमि तथा 3068 हैक्‍टेयर शासकीय भूमि शामिल हैं।

  • परियोजना के माध्‍यम से 300 मेगावाट
    विद्युत उत्पादन होगा। 500 मिलियन घन मीटर जल का उपयोग उद्योगों के लिए
    , 30 मिलियन घन मीटर
    जल का उपयोग पेयजल के लिए होगा। इस परियोजना से मत्‍स्‍य  उत्‍पादन का बड़ा जलक्षेत्र उपलब्‍ध होगा
    ,
    जिससे प्रतिवर्ष 4824 टन मत्‍स्‍य उत्‍पादन होगा।
     



भारत का भूगोल !! ncert pattern !! bharat ka bhugol hindi notes !! indian geography






















इन्‍हें भी देखें 👉छत्‍तीसगढ़ में पद्मश्री पुरस्‍कार प्राप्‍त सुची

इन्‍हें भी देखें 👉छत्‍तीसगढ़  संगीत नाटक अकादमी सम्‍मान सुची

इन्‍हें भी देखें 👉छत्‍तीसगढ़ के सीमेन्‍ट उद्याेग

इन्‍हें भी देखें 👉छत्‍तीसगढ़ के मुख्‍य सचिव की सुची  

इन्‍हें भी देखें 👉छत्‍तीसगढ़ के राज्‍यपाल क्रमवार सुची

इन्‍हें भी देखें 👉महानदी जल विवाद

इन्‍हें भी देखें 👉प्रमुख निधन छत्‍तीसगढ़ 2020-21

इन्‍हें भी देखें 👉गौरेला पेन्‍ड्रा मरवाही जिला जानकारी

इन्‍हें भी देखें 👉गुरू घासीदास जी के अनमोल वचन

इन्‍हें भी देखें 👉बस्‍तर राजा प्रवीर चंद भंजदेव बायोग्राफी

इन्‍हें भी देखें 👉भुपेश बघेल जी बायोग्राफी 

इन्‍हें भी देखें 👉छत्‍तीसगढ़ कैबिनेट मिनिस्‍टर बायोग्राफी

इन्‍हें भी देखें 👉पदूपलाल पुनालाल बक्‍शी बायोग्राफी

इन्‍हें भी देखें 👉भुपेश बघेल जी बायोग्राफी 

इन्‍हें भी देखें 👉बस्‍तर में भूकंप ( भूमकाल) 1910 का विद्रोह

इन्‍हें भी देखें 👉छत्‍तीसगढ़ की अद्भूत पहाड़ी कोरवा जनजाति का रहस्‍य।।

इन्‍हें भी देखें 👉तुम पेंड़ काटोगें हम तुम्‍हारा गला काटेंगे। कोई विद्रोह का सच

इन्‍हें भी देखें👉जल उठा था दन्‍तेवाड़ा जब दंतेश्‍वरी मंदिर में नरबली दी जाती थी

इन्‍हें भी देखें👉पंडवानी गायिका तीजन बाई का जीवन

इन्‍हें भी देखें👉छत्‍तीसगढ़ी राज्‍य गीत – अरपा पैरी के धार 

इन्‍हें भी देखें👉 महान लोग जब छत्‍तीसगढ़ पहूंचे

इन्‍हें भी देखें👉सीजी फोटो फैक्‍ट  

इन्‍हें भी देखें👉 गुरू घासीदास जीवनी 

इन्‍हें भी देखें👉पंडित रविशंकर शुक्‍ल का सम्‍पूर्ण जीवन 

इन्‍हें भी देखें👉रामानुजन का कैम्ब्रिज विश्‍व विद्यालय पहुंचने का सफर  

इन्‍हें भी देखें👉अजीत प्रमोद जोगी का जीवन 

इन्‍हें भी देखें👉छत्‍तीसगढ़ के सभी जिलों के कलेक्‍टर के नाम 2020- 21 

इन्‍हें भी देखें👉छत्‍तीसगढ़ में सामंती राज 

इन्‍हें भी देखें👉छ0ग0 व्‍यापम नौकरियां आगामी 2021 

इन्‍हें भी देखें👉छ0ग0 मंत्रालय वर्तमान रिक्‍त पदों की जानकारी 2021 

इन्‍हें भी देखें 👉छत्‍तीसगढ़ जिला खनिज संस्‍थान न्‍यास CGDMF

इन्‍हें भी देखें 👉 CGPSC STATE SERVICES APPLICATION 2020-21

Comments

No comments yet. Why don’t you start the discussion?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *